एसएसपी अभिषेक यादव ने जीरो ड्रग्स अभियान के अंतर्गत किया शराब गिरोह का भंडाफोड़


,       मुज़फ्फरनगर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव के नेतृत्व में जनपद मुजफ्फरनगर को नशा मुक्त बनाने के लिए चलाए जा रहे जीरो ड्रग्स अभियान को पुलिस ने एक बार फिर गति देते हुए अवैध शराब के चार बड़े कारोबारी को गिरफ़्तार कर करोडो का माल बरामद किया है। 

दरअसल मुज़फ्फरनगर की सिविल लाइन थाना पुलिस और क्राईम ब्रांच की टीम ने सयुंक्त कार्यवाही करते हुए गुरुवार को रुड़की रोड से अवैध शराब का कारोबार करने वाले गिरोह के सरगना चमन लाल उर्फ़ सागर निवासी दिल्ली के साथ उसके तीन साथी गोविंदराम ,सतेंदर और चरणपाल को गिरफ़्तार किया है। पुलिस ने पकडे गए आरोपियों की निशानदेही पर दिल्ली के मड़ौली स्थित एक अवैध रूप से अल्मूनियम के ढक्कन बनाने वाली फैक्ट्री के खुलासे के साथ साथ लगभग 8 लाख 50 हज़ार विभिन्न सरकारी डिस्टरली शराब मार्का के ढक्कन और 2 लाख 60 हज़ार अवैध शराब के रैपर भी बरामद किये है। पकडे गये अवैध शराब  गिरोह के सदस्यों के अभी चार साथी दिनेश , सुरेश , जगदीश और किशोरीलाल अभी भी पुलिस की गिरफ़्त से बाहर है ,जिनकी गिरफ्तरी के लिए पुलिस प्रयास कर रही है। इस मामले में मुज़फ्फरनगर एसएसपी अभिषेक यादव ने जानकरी देते हुए बताया कि आगामी प्रधानी और पंचायती चुनाव को लेकर जनपद में अवैध शराब का काम करने वाले गिरोह की गिरफ़्तारी के लिए एक अभियान चलाया हुआ है ,जिसके चलते पिछले कुछ माह पूर्व भी पुलिस ने अवैध शराब का काम करने वाले 10 लोगो को गिरफ्तार कर एक बड़ा खुलासा करते हुए उन्हें जेल भेजा था ,इसी गैंग का सरगनाहा चमनलाल उर्फ़ सागर निवासी शहादरा दिल्ली फरार चल रहा था जिसको आज उसके तीन साथियो के साथ पुलिस ने गिरफ़्तार कर करोडो रूपये के अवैध शराब के ढक्कन और रेपर बरामद किये है , इन ढक्कन और रेपर को दिल्ली के मड़ौली स्थित एक फैक्ट्री में बनाकर दिल्ली ,एनसीआर ,उत्तर प्रदेश ,राजस्थान ,हरियाणा और पंजाब में सरकारी डिस्टलरी के नाम से सप्लाई किया जाता था। वंही जनपद पुलिस की इस बड़ी कार्रवाई से शराब माफियाओं में हड़कंप मचा हुआ है। वंही फरार अभियुक्तों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस प्रयास में जुटी हुई है।

Post a Comment

Previous Post Next Post